21 दिन में जीत लेंगे कोरोना से लड़ाई: मोदी

पटना : कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए बैंकों के कामकाज का समय बदला गया है। बिहार राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति ने निर्देश जारी किया है। निर्देश अनुसार अब सुबह 10 से दो बजे दोपहर तक बैंकिंग कार्य होंगे। इस अवधि में नकद जमा व निकासी, सरकारी ट्रांजेक्शन, एटीएम में कैश लो¨डग, चेक क्लीयरेंस एवं बिल पेमेंट आदि होगा। पासबुक ¨पट्रिंग, नया खाता खोलने तथा आधार कार्ड संबंधित कार्य नहीं होंगे।

एक समय पांच ग्राहक ही रहें: ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन के संयुक्त सचिव डीएन त्रिवेदी ने कहा कि बैंकों को निर्देश दिया गया है कि वे सुनिश्चित करें कि एक साथ शाखा में पांच ग्राहक ही रहें। उनके बीच एक मीटर का फासला हो।

सुबह 10 से दोपहर दो बजे तक ही होगी बैंकिंग

जागरण संवाददाता, वाराणसी : देश में जारी लॉकडाउन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी की जनता से वीडियो कांफ्रेंसिंग से बात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि महाभारत का युद्ध 18 दिन में जीता गया था। कोरोना के खिलाफ पूरा देश लड़ रहा है। उसमें 21 दिन लगेंगे। महाभारत के युद्ध के समय श्रीकृष्ण सारथी थे। आज देश की 130 करोड़ जनता सारथी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देशवासी गलतफहमी से बाहर निकलें। देश इस समय गंभीर संकट से गुजर रहा है। संक्रमण का फैलना नहीं रुका तो कितना नुकसान होगा, इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। यह महामारी गरीब-अमीर नहीं देखती, दृढ़ संकल्प से ही इसे हराना संभव है। आज फिर संकल्प लें कि हम किसी भी हालत में 21 दिनों तक घरों से बाहर नहीं निकलेंगे, उचित दूरी बनाए रखेंगे।

मोदी ने कहा कि काशी का अर्थ है शिव यानी कल्याण। महादेव की नगरी काशी में इस संकट की घड़ी में सबको मार्ग दिखाने का सामथ्र्य है। काशी देश का मार्गदर्शन कर सकती है। लॉकडाउन की परिस्थिति में काशी पूरे देश को सहयोग, शांति, सहनशीलता, साधना, सेवा, समाधान, संयम और संवेदनशीलता-समन्वय की सीख दे सकती है। पीएम ने कहा कि आप सभी पूजा-अर्चना में व्यस्त होंगे। नवरात्र के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है। उन्हें प्रकृति की देवी कहा जाता है। आज देश जिस संकट से गुजर रहा है, उसमें हम सभी को मां शैलपुत्री के आशीर्वाद की आवश्यकता है। काशी का सांसद होने के नाते मुङो आपके बीच होना चाहिए लेकिन, जो हालात हैं उसके चलते मैं दिल्ली में हूं। मैं काशी के बारे में निरंतर अपने साथियों से अपडेट ले रहा हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *